फ्रेक्शनल ओनरशिप क्या है? | Fractional Ownership In Share Market

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

शेयर बाजार में कुछ ऐसे भी Share है जो की बहुत ज्यादा महंगे हैं और छोटे निवेशक उनको नहीं खरीद सकते अब एमआरएफ का Share ले ले वह लगभग 1 Lakh रुपए का आता है और न जाने ऐसे कितने शहर हैं जिनकी कीमत हजारों में है 

आज के इस आर्टिकल में हम आपको फ्रेक्शनल ओनरशिप के बारे में बताएंगे जिसके जरिए आप एक लाख के शेर को ₹25000 में खरीद सकते हैं 

जैसा कि हमने पहले ही बताया कि बहुत सारे Share ऐसे हैं जिनको छोटे निवेशक नहीं खरीद सकते इसलिए सेवी ने यह विचार किया है कि वह फ्रेक्शनल ओनरशिप जारी करेगा 

जिसके जरिए आप महंगे Share को सस्ते में खरीद सकते हैं और उनकी हिस्सेदारी ले सकते हैं तो चलिए जानते हैं की फ्रेक्शनल ओनरशिप क्या है और कैसे काम करता है 

फ्रेक्शनल ओनरशिप क्या है?

यह निवेशकों को किसी भी कंपनी के Share का एक हिस्सा खरीदने की परमिशन देता है मान लीजिए कोई Share ₹100000 का है और अभी के टाइम पर अगर आप चाहते हैं उसको खरीदना तो आपको पूरा ₹100000 देना पड़ेगा 

लेकिन फिक्शनल ओनरशिप के बाद आपको ₹25000 में भी उसे शेयर का एक चौथाई हिस्सा मिल जाएगा जिसको आप खरीद सकेंगे और यह हिस्सा है फिक्शनल ओनरशिप का

फ्रेक्शनल ओनरशिप की जरूरत क्यों पड़ रही है?

सेबी इसको इसलिए लॉन्च कर रहा है क्योंकि जो छोटे निवेशक होते हैं वह एमआरएफ जैसे बड़े Share नहीं खरीद सकते क्योंकि उनका पोर्टफोलियो ही 1 लाख से 2 लाख रुपए तक का होता है अब ऐसे में अगर किसी 

को MRP का Share लेना है तो 2 लाख में केवल उसके पास दो Share आएंगे 

इसलिए से भी फ्रेक्शनल ओनरशिप से जारी करने का विचार कर रही है जिसके जरिए छोटे निवेशक भी इसमें हिस्सेदारी ले सके औरएक चौथेआई (¼)  हिस्सा उन्हें मिल सके

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *